उपायुक्त डॉ. प्रियंका सोनी ने जिला में कोविड की दूसरी लहर के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग अधिकारियों की बैठक ली

हिसार,
कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर उपायुक्त डॉ प्रियंका सोनी ने शुक्रवार को लघु सचिवालय सभागार में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक के दौरान दिन-प्रतिदिन बढ़ रहे कोरोना ग्राफ के संक्रमण तथा मृत्यु दर के आंकड़ों की गहनता से समीक्षा की गई।

उपायुक्त ने बैठक में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से कहा कि कोरोना से लड़ाई की रणनीति में अपेक्षित सुधार किया जाना आवश्यक है। कोरोना का सैंपल लेने से व्यक्ति को समय पर उपचार देने के समय को न्यूनतम करना प्राथमिकता होनी चाहिए, ताकि संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से और अधिक व्यक्ति संक्रमित न हों। इसी प्रकार से कोरोना पॉजिटिव के संपर्कों को जल्द से जल्द चिह्निïत करना और उनका सैंपल लेना बहुत आवश्यक है।

जिला में कोविड को लेकर सभी जरूरी सुविधाओं की उपलब्धता को लेकर भी समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिए कि सैंपलिंग बढ़ाकर कोरोना संक्रमितों को चिह्निïत किया जाए और कोविड प्रसार को रोकने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएं। होम आइसोलेशन के मरीजों की चिकित्सकों द्वारा नियमित देखरेख की जानी चाहिए। यदि होम आईसोलेशन के मरीज के ईलाज में लापरवाही हुई तो संबंधित सीएचसी अधिकारी की जवाबदेही सुनिश्चित करते हुए उस पर कार्रवाई की जाएगी।

डॉ प्रियंका सोनी ने कहा कि हमारा प्रयास है कि जिला के प्रत्येक हिस्से में कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण किया जाए। इसके लिए उन्होंने कोरोना हॉटस्पॉट चिन्हित कर वहां विशेष रणनीति के तहत कार्य करने के निर्देश दिए। अनट्रेस मरीजों को खोजने के लिए पुलिस की मदद लेकर उनके आइसोलेशन होने तक जरूरी कदम उठाए जाएं। कंटेनमेंट जोन बनाने के कार्य में भी स्वास्थ्य विभाग व संबंधित एसडीएम आपसी तालमेल के साथ करें।WhatsApp Image 2021 04 08 at 4.38.22 PM 1

उन्होंने कहा कि सभी निजी अस्पतालों में बेड की उपलब्धता, जिले व जिले से बाहर के संक्रमितों का डाटा तथा उपचार संबंधी रेट लिस्ट का चार्ट लगाया जाए। नागरिक अस्पताल में सभी वेंटीलेटर की व्यवस्था सुचारू हो। इसके अतिरिक्त गत वर्ष की भांति ही जिले के विभिन्न स्थानों पर कोविड कैयर सेंटर स्थापित किए जाने की दिशा में कार्यवाही की जाए। उपायुक्त ने कहा कि नागरिकों को अधिक से अधिक वैक्सीनेशन किया जाए। इसके लिए सरपंचों, पार्षदों व गणमान्य नागरिकों को सहयोग लें। वैक्सीनेशन केंद्रों पर वैक्सीनेशन की अवधि को 12 घंटे किया जाए। ज्यादा भीड़भाड़ वाले स्थानों पर शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अधिकारी सैनिटाईजेशन करवाएं तथा वेस्ट मैनेजमेंट बेहतर ढग़ से करें।

इस अवसर पर हांसी एसडीएम जितेंद्र अहलावत, हिसार के एसडीएम जगदीप सिंह, नारनौंद एसडीएम विकास यादव, बरवाला एसडीएम राजेंद्र सिंह, नगर निगम की सयुंक्त आयुक्त बैलिना लोहान, एचएसवीपी के संपदा अधिकारी वेद प्रकाश, सीटीएम पुलकित मल्होत्रा, सीएमओ डॉ. रत्ना भारती, डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. जया गोयल, डॉ. तरुण सहित स्वास्थ्य विभाग व अन्य विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें