मणिपुर पुलिस के कमांडो पर आरोप, फैमिली बोली मारने वाले क्या जांच करेंगे

मणिपुर पुलिस के कमांडो पर आरोप, फैमिली बोली मारने वाले क्या जांच करेंगे

मणिपुर में डेविड नामक व्यक्ति का वीडियो आजकल वायरल हो रहा है ।इस वीडियो में बांस पर एक कटा सिर लटका हुआ है। चेहरा फटा है, आंखें निकली हुई है लेकिन वीडियो बनाने वाले खुश हैं और मैतेई भाषा में बात कर रहे हैं।
कटा हुआ यह सिर 31 साल के डेविड थीक का है, वह कुकी थी। मामले की छानबीन के लिए डेविड की परिवार को ढूंढना शुरू किया गया। इसके लिए चुरा चांदपुर पहुंचे और वहां के रिलीफ कैंप में वीडियो दिखाया जो कि वायरल हुआ था।आखिर में चुरा चांदपुर में करीब 5 किलोमीटर दूर तक रिलीफ कैंप तक पहुंचे जहां डेविड का परिवार मिल गया।
मणिपुर पुलिस कमांडो ने गोली मारी, फिर सिर काट कर लटका दिया,
डेविड के अंकल बताते हैं कि घाटी में मैतेई और पहाड़ों पर कुकी ने बंकर बना लिए थे।विलेज डिफेंस कमेटी बनाकर अपने अपने इलाकों की सुरक्षा कर रहे थे।डेविड भी चिंगलगमेल गांव की डिफेंस फोर्स में था। डेविड के दोस्त 39 साल के मोइपुन बताते हैं, ‘2 जुलाई को सुबह करीब 4:00 बजे का वक्त था। गांव की विलेज डिफेंस टीम रात भर निगरानी कर कर थक चुकी थी।डेविड भी वॉलिंटियर था। रात भर राइफल लेकर बनकर में तैनात था।हम घर लौटे ही थे कि मणिपुर पुलिस कमांडो और इंडियन रिजर्व बटालियन यानी आईआरबी कि करीब 20 गाड़ियां गांव में दाखिल हुई ।उनके साथ आरामबाई टेंगोल और मैतेई लि‌पुन के लोग भी थे। वह पहले से ही डेविड को ढूंढ रहे थे,आरामबाई टेंगोल और मैतेई लि‌पुन के लोग घरों पर फायरिंग और तोड़फोड़ करने लगे। मैं डरकर और जान बचाने के लिए झाड़ियों में छिप गया। इतने में ही डेविड बाहर आया ,मैतेई के लोगों ने उसे देखा और पकड़ लिया। पहले उन्होंने डेविड को खूब पीटा और फिर उसे गोली मार दी, उसे गाड़ी से कुचला, वे इतने में भी नहीं माने उन्होंने उसका सर काट दिया।’
एफआईआर दर्ज तो हुई लेकिन अब तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई। डेविड की हत्या के बाद उनका परिवार चुरा चांदपुर के रिलीफ कैंप में रहने लग गया और अपना घर और गांव सब छोड़ कर आ गया क्योंकि अब उस पर मैतई का कब्जा हो गया था।

Source: Dainik Bhaskar

TheNationTimes

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *