अपनी प्रतिभा के बल पर आईईएस बनी न्योलीकला की ग्रीष्मा गोयल : प्रतिदिन 15 से 16 घंटे करती थी पढ़ाई

दिल्ली वित्त मंत्रालय में मिली पोस्टिंग
छोटे से गांव न्योली कला की रहने वाली ग्रीष्मा गोयल ने भारतीय भारतीय अर्थशास्त्र सेवा की परीक्षा पास कर जिले का नाम रोशन किया है । अभी हाल ही में ग्रीष्मा गोयल को दिल्ली व वित्त मंत्रालय में पोस्टिंग दी गई है । ग्रीष्मा गोयल के ताऊ अनिल गोयल ने बताया कि ग्रीष्मा के पिता राजीव गोयल पत्थर व्यापारी है जबकि उसके बाबा बजरंग दास गोयल एच एयू के पूर्व सदस्य रहे हैं । बताया कि ग्रीष्मा गोयल की नियुक्ति भारत सरकार के वित्त मंत्रालय में आर्थिक मामलों के विभाग में की गई है । दिल्ली विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र में स्नातक तथा सेंट्रल यूनिवर्सिटी हैदराबाद से स्नातकोत्तर परीक्षा उत्तीर्ण करने के पश्चात यूपीएससी द्वारा आयोजित इंडियन इकोनामिक सर्विस एग्जामिनेशन में भाग लिया था । परीक्षा में उसे 14वी रैंक मिली । ग्रीष्मा गोयल का कहना है कि वह प्रतिदिन 15 से 16 घंटे पढ़ाई करती थी । उसने युवाओं को संदेश देते हुए कहा कि किसी भी क्षेत्र में सफल होने के लिए हिम्मत नहीं हारनी चाहिए। मेहनत करने वालो को 1 दिन सफलता अवश्य मिलती है ।उसने सफलता का श्रेय अपने बाबा ,माता ,पिता और ताऊ को दिया है। ग्रीष्मा के ताऊ हिसार की अनाज मंडी में रहते है।

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें