कोविड मरीजों के चेहरे पर मुस्कान लाना हमारा दायित्वःगीतिका दुग्गल

ऑक्सीजन टैंकर भिजवाने के लिए श्रीमती सावित्री जिन्दल का धन्यवाद
• जेएसपीएल के ओडिशा स्थित अंगुल प्लांट से टैंकर से अग्रोहा मेडिकल कॉलेज और ओपी जिन्दल अस्पताल, हिसार में ऑक्सीजन की आपूर्ति
• ओपी जिन्दल जी कहा करते थे, “चिकित्सा का दान महादान” – सावित्री जिन्दल
अग्रोहा (हिसार), 9 मई 2021 – महाराजा अग्रसेन मेडिकल कॉलेज, अग्रोहा की निदेशक डॉ. गीतिका दुग्गल ने कहा कि कोविड19 पॉजिटिव मरीजों को स्वस्थ करना और उनके चेहरे पर मुस्कान लाना हमारा सर्वोच्च दायित्व है और हम इसे पूरा करने के लिए संकल्पबद्ध हैं। उन्होंने मेडिकल कॉलेज संचालन समिति की अध्यक्ष श्रीमती सावित्री जिन्दल का धन्यवाद किया जिन्होंने गंभीर रूप से बीमार मरीजों के इलाज के लिए आज पुनः ऑक्सीजन टैंकर उपलब्ध कराया।
अग्रोहा मेडिकल कॉलेज की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में डॉ. दुग्गल ने कहा कि हरियाणा की पूर्व कैबिनेट मंत्री और ओपी जिन्दल ग्रुप की चेयरपर्सन एमिरेटस श्रीमती सावित्री जिन्दल अग्रोहा मेडिकल कॉलेज को चिकित्सा शिक्षा और शोध क्षेत्र में आगे ले जाने के लिए प्रतिबद्ध हैं इसलिए वे सदैव अस्पताल को भरपूर संसाधन उपलब्ध कराने के लिए प्रयासरत रहती हैं। आज जेएसपीएल के ओडिशा स्थित अंगुल प्लांट से जो ऑक्सीजन टैंकर आया, यह उन्हीं के मार्गदर्शन में संभव हुआ है। उनके नेतृत्व में हजारों कोविड मरीजों को स्वस्थ करने में अस्पताल को सफलता मिली है।
डॉ. दुग्गल ने कहा कि अग्रवाल समाज के आशीर्वाद से इस अस्पताल में बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने में मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल, स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज और राज्यसभा सांसद लेफ्टिनेंट जनरल (रिटायर्ड) डॉ. डीपी वत्स ने बढ़-चढ़कर योगदान दिया है और यही वजह है कि आज हरियाणा के साथ-साथ पंजाब और राजस्थान के मरीजों के लिए भी अग्रोहा मेडिकल कॉलेज आशा की किरण बन गया है।

WhatsApp Image 2021 05 09 at 3.42.28 PM
उन्होंने कोविड रोगियों की सेवा में समर्पित डॉ. संजीव, डॉ. राजीव चौहान, डॉ. पूजा कटारिया, डॉ. मनमोहन और डॉ. रविकांत के नेतृत्व में कार्यरत पूरी टीम का हौसला बढ़ाते हुए कहा कि हम सभी लोगों की परेशानी दूर करने के सदैव तत्पर हैं।
इस अवसर पर अपने संदेश में अग्रोहा मेडिकल कॉलेज संचालन समिति की अध्यक्ष श्रीमती सावित्री जिन्दल ने कहा, “स्वस्थ समाज के लिए बाऊजी श्री ओपी जिन्दल जी सदैव चिंतित रहा करते थे। उनका मानना था कि एक स्वस्थ व्यक्ति ही राष्ट्र निर्माण में योगदान कर सकता है इसलिए उन्होंने अग्रोहा को न सिर्फ प्रेरणा स्थल बनाया बल्कि स्वास्थ्य जागरूकता के लिए इस कॉलेज की नींव रखी। वो कहा करते थे कि चिकित्सा का दान महादान है। यह सपना आज अग्रोहा मेडिकल कॉलेज पूरा करने का प्रयास कर रहा है।“
गौरतलब है कि हिसार के ओपी जिन्दल हॉस्पिटल में भी आज श्रीमती सावित्री जिन्दल के प्रयासों से ऑक्सीजन उपलब्ध कराया गया है। महामारी के इस संकट काल में ओपी जिन्दल ग्रुप की कंपनियां जेएसडब्ल्यू, जेएसएल और जेएसपीएल राष्ट्रीय स्तर पर ऑक्सीजन की आपूर्ति कर लोगों की जान बचाने का प्रयास कर रही हैं।

 

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें