UPSC एग्जाम की टिप्स लेकर आई है यह किताबें, खुद ऑफिसर दे रहे मोटिवेशन

UPSC : किसी मंजिल तक कैसे पहुंचना है, यह वही सबसे अच्छे तरीके से समझ सकता है, जिसने उस सफर को खुद पूरा किया हो. आईएएस अफसर कैसे बनें (IAS Officer), यूपीएससी परीक्षा की तैयारी कैसे करें, यह एक सरकारी अफसर से बेहतर कोई नहीं बता सकता है. कुछ नामी आईएएस अफसरों ने ऐसी किताबें लिखी हैं, जिनसे आपको मदद मिल सकती है (UPSC Books).

यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करना मुश्किल है. इंटरनेट के जमाने में जब हर चीज एक क्लिक पर उपलब्ध है, सबके पास ज्ञान का भंडार है, तब पढ़ाई के लिए सही सोर्स ढूंढ पाना आसान और कठिन, दोनों हो जाता है. अगर आप भी सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे हैं या यूपीएससी परीक्षा पास करके आईएएस अफसर ही बनना चाहते हैं तो ये किताबें जरूर पढ़ें.

UPSC Exam Tips: लेखक भी हैं ये आईएएस अफसर
यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करने वाले उम्मीदवारों को लिखने की खूब आदत होती है. निबंध लेखन की प्रैक्टिस करते-करते उनकी लेखनी काफी मजबूत हो जाती है. आईएएस अफसर बनने के लिए खुद आईएएस अफसर से टिप्स लेना बेस्ट रहेगा. आईएएस अफसरों द्वारा लिखित किताबों से आपकी तैयारी बेहतर हो सकती है. इससे सरकारी नौकरी और ब्यूरोक्रेसी को समझना भी आसान हो जाएगा.

 

1- ब्यूरोक्रेसी गेट्स क्रेजियर: आईएएस अनमास्क्ड, लेखक: एमके कॉ (IAS MK Kaw)- यह किताब 1930 में आई थी और प्रकाशित होने के 1 महीने के अंदर ही बिक गई थी. हिंदी और पंजाबी में अनुवाद के समय कुछ बदलावों के साथ इसे अफसरशाही बेनकाब के नाम से रिलीज किया गया था.

2- द सर्विस ऑफ द स्टेट: द आईएएस रीकंसिडर्ड, लेखक: भास्कर घोष (Bhaskar Ghose IAS)- आईएएस भास्कर घोष के पास सरकारी नौकरी का 36 सालों का अनुभव है. उन्होंने इस किताब में समकालीन भारत में भारतीय प्रशासनिक सेवा के महत्व जैसे कई मुद्दों को संबोधित किया है.

3- व्हाई आई एम नॉट ए सिविल सर्वेंट, लेखक: अजय सिंह यादव (Ajay Singh Yadav IAS)- पूर्व आईएएस अफसर अजय सिंह यादव ने अपने उसूलों के लिए सरकारी नौकरी से इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने टू चियर्स फॉर द ब्रिटिश राज और फोर्टी फोर पाेयम्स जैसी नामी किताबें भी लिखी हैं.

4- द स्टील फ्रेम: अ हिस्ट्री ऑफ द आईएएस, लेखक: दीपक गुप्ता (Deepak Gupta IAS)- आईएएस दीपक गुप्ता नवंबर 2014 से सितंबर 2016 तक संघ लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष रहे हैं. हर यूपीएससी एस्पिरेंट को आईएएस दीपक गुप्ता की लिखी किताब जरूर पढ़नी चाहिए.

5- ड्रिवेन: मेमोयर्स ऑफ अ सिविल सर्वेंट टर्न्ड ऑन्त्रेप्रेन्योर, लेखक: जगदीश खट्टर (Jagdish Khattar IAS)- 27 सालों तक भारतीय प्रशासनिक सेवा में रहने के बाद आईएएस जगदीश खट्टर बिजनेस की दुनिया में चले गए थे. उन्होंने इस किताब में अपनी बेहतरीन यादें भी शेयर की हैं.

anvimultisolutions@gmail.com

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *