[ad_1]

लखनऊ. वाराणसी में अपनी मांगों को लेकर जारी बुनकरों की हड़ताल पर सिसायत तेज हो गई है. कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी ने बुनकरों के बिजली बिल को लेकर योगी सरकार को आड़े हाथ लिया है. प्रियंका गांधी ने सीएम योगी को चिट्ठी लिखकर बुनकरों को फ्लैट रेट पर बिजली देने, फर्जी बकाया के नाम पर उन्हें परेशान ना करने की मांग की है.

प्रियंका गांधी ने कहा, “दुनिया में बनारस का नाम मशहूर करने वाले बुनकरों को फ्लैट रेट पर बिजली न देना, नए रेट पर बिजली बिल वसूली के लिए उन्हें प्रताड़ित करना बेहद गलत है. भाजपा सरकार को अविलंब फ्लैट रेट पर बिजली व पुराने दर पर बकाया भुगतान लागू कर बुनकरों की रक्षा करनी चाहिए.

प्रियंका गांधी की चिट्ठी
प्रियंका गांधी ने अपनी चिट्ठी में लिखा, “मुख्यमंत्री महोदय, मैं उम्मीद करती हूं कि आप कुशल-मंगल होंगे. मेरी जानकारी में आया है कि पिछले कुछ समय से वाराणसी के बुनकर बहुत ही परेशान और हताश हैं. पूरी दुनिया में मशहूर बनारसी साड़ियों के बुनकरों के परिवार दाने-दाने को मोहताज हो गए हैं. कोरोना महामारी और सरकारी नीतियों के चलते उनका पूरा कारोबार चौपट हो गया है जबकि उनकी हस्तकला द्वारा सदियों से यूपी का नाम रौशन हुआ है. राज्य सरकार को इस कठिन दौर में उनकी पूरी सहायता करनी चाहिए.”

प्रियंका ने ये भी कहा कि यूपीए सरकार ने 2006 में बुनकरों को फ्लैट रेट पर बिजली देने की योजना लागू की थी. मगर आपकी सरकार ये योजना खत्म कर के बुनकरों के साथ नाइंसाफी कर रही है. सिर्फ इतना ही नहीं बुनकरों ने मुझे बताया कि मनमाने बिजली बिल के खिलाफ जब वे हड़ताल पर गए तो सरकार ने उन्हें वार्ता के लिए बुलाया. सरकार के प्रतिनिधि ने उन्हें भरोसा भी दिलाया कि उनकी मांगें मान ली जाएंगी, लेकिन उसके बावजूद उनकी समस्याओं का समाधान करने का कोई प्रयास नहीं हुआ.

ये भी पढ़ें:

यूपी: स्मार्ट मीटर की गड़बड़ियों पर एक्शन में ऊर्जा मंत्री, अफसरों पर कार्रवाई के आदेश, 15 दिन में रिपोर्ट मांगी

दिवंगत बीजेपी नेता कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय ने प्रियंका गांधी को लिखा खत, पूछा- मुख्तार को क्यों बचा रही हैं?



[ad_2]

Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें