फाइनेंस कंपनी को लूट कर भागे आरोपी, पुलिस ने धर दबोचा

गोपालगंज में श्रीराम फाइनेंस में कर्मी को गोली मारकर लूटपाट करनेवाले दो कुख्यात अपराधियों को पुलिस ने 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया. वैशाली जिला के रहने वाले दोनों अपराधियों पर कई लूट और आर्म्स एक्ट के मामले पहले से दर्ज हैं. पुलिस ने इन अपराधियों के पास से दो देसी पिस्टल, नौ कारतूस और दो मोबाइल के अलावा लूट में प्रयोग किये गये बाइक बरामद किया है. छपरा पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार इन अपराधियों से पुलिस पूछताछ करने में जुटी हुई है.

गिरफ्तार अपराधियों की पहचान वैशाली के बिदुपुर के सन्नी कुमार और भगवानपुर के शिवम कुमार के रूप में की गयी है. एसपी स्वर्ण प्रभात ने बताया कि नगर थाना क्षेत्र के बंजारी मोड़ के पास दो फरवरी को पांच नकाबपोश अपराधियों ने श्रीराम फाइनेंस में लूट का प्रयास किया था. विरोध करने पर एक कर्मी को गोली मार दी थी. घटना को गंभीरता से लेते हुए एसआइटी का गठन किया गया था और सीमावर्ती जिला के पुलिस को सूचना देकर अलर्ट किया गया था. वारदात के बाद अपराधी छपरा होकर वैशाली भाग रहे थे, जिसमें दो अपराधियों को छपरा पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि फरार अन्य अपराधियों की तलाश में छापेमारी की जा रही है.

वैशाली से आकर लूटपाट के बाद मारी गोली

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार अपराधियों में वैशाली जिला के बिदुपुर थाना क्षेत्र के दिलावरपुर निवासी बिजेंद्र राम के पुत्र शिवम कुमार और वैशाली के भगवानपुर थाना क्षेत्र के इमादपुर निवासी बबलू कुमार सिंह के पुत्र सन्नी कुमार ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम दिया था. घटना के दौरान विरोध करने पर एक कर्मी को गोली मार दी थी. वैशाली से आकर कैसे लूट की वारदात को अंजाम दिया, पुलिस इसकी जांच कर गिरोह में शामिल अन्य अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.

बदमाशों का रहा है आपराधिक इतिहास

एसपी ने बताया कि गिरफ्तार दोनों अपराधियों पर आर्म्स एक्ट और डकैती का केस पहले से दर्ज है. शिवम कुमार और सन्नी कुमार पर बिदुपुर थाना के अलावा गड़खा थाने में दो अपराधिक मामले दर्ज है. अंतर जिला गिरोह के दोनों अपराधी हैं, जो बाइक से ही दूसरे जिलों में जाकर लूटपाट और डकैती करते थे. घटना को अंजाम देकर बाइक से ही वैशाली भाग जाते थे. इस बार इन अपराधियों को घटना को अंजाम देने के बाद भागने के दौरान ही रास्ते में गिरफ्तार कर लिया गया.

 

anvimultisolutions@gmail.com

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *