स्वतंत्रता दिवस से पूर्व जब्त किया भारी विस्फोट, जानिए कौन है इस साजिश के पीछे ?

The Nation Times, Pakur News: झारखंड के पाकुड़ के महेशपुर में स्वतंत्रता दिवस से पूर्व ही भारी मात्रा में एक घर से विस्फोटक बरामद हुआ है. इस मामले के जानकारी मिलते ही आस पड़ोस में सनसनी फैल गई.

पुलिस ने रद्दीपुर ओपी क्षेत्र के श्रीरामगढ़िया गांव में गुप्त सूचना के आधार पर यह कार्रवाई की है. एसआईटी टीम ने जुबान मरांडी के घर पर छापेमारी कर 25 बोरा अमोनियम नाइट्रेट, 775 पीस जिलेटिन व 1150 पीस डेटोनेटर जब्त किया है. हालांकि मामले में किसी भी गिरफ्तारी नहीं हो सकी है. गृह स्वामी जुबान मरांडी के खिलाफ विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है.

जिसके बाद महेशपुर एसडीपीओ नवनीत हेंब्रम के नेतृत्व में एसआईटी गठन करदिवस से पूर्व जब्त किया भारी विस्फोट कार्रवाई का निर्देश दिया गया. एसआईटी ने जुबान के घर पर छापेमारी कर 25 बोरा अमोनियम नाइट्रेट, 775 पीस जिलेटिन व 1150 पीस डेटोनेटर जब्त किया है. इसकी बाजार कीमत 2 लाख रूपये आंकी जा रही है.

महेशपुर थाना प्रभारी आनंद पंडित ने बताया की गुप्त सुचना मिली थी कि श्रीरामगढ़िया गांव के जुबान मरांडी के घर भारी मात्रा में विस्फोटक पदार्थ पड़ा है. इसकी सूचना वरीय अधिकारियों को दी गई.

आखीर किसके जरिए लाया गया यह सामान ?

यहाँ के थाना प्रभारी ने यह भी बताया कि जुबान मरांडी घर से फरार हो चूका है. उसके खिलाफ थाने में विस्फोटक पदार्थ अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है.

पुलिस मामले की गहन पड़ताल में जुटी है. पुलिस यह जानने की कोशिश कर रही है कि जब्त विस्फोटक पदार्थ कहां से आया था और इसे कहां खपाने की योजना थी. इसका प्रयोग 15 अगस्त से पहले झारखंड में किसी बड़ी सजिश के लिए तो नहीं किया जाना था ? इस राज से पर्दा फरार जुबान मरांडी ही खोल सकता है जो अभी फरार है .

अवैध विस्फोटक का इस्तेमाल करती है खदाने 
पाकुड़ का यह इलाका पड़ोसी राज्य पश्चिम बंगाल से सटा है. इस कारण आसानी से यहां जिलेटिन, डेटोनेटर और अमोनियम नाइट्रेट की सप्लाई हो जाती है. पूर्व में भी विस्फोटक पदार्थों के तस्करों की गिफ्तारी हुई थी. लेकिन इस गोरख धंधे पर विराम नहीं लग पा रहा है.

यह भी पढ़ें:  हिसार पुलिस ने पिछले 9 महीनो में 7 इनामी अपराधी किए गिरफ्तार

TheNationTimes

Learn More →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *