Photo 1 TP 20.12.2021

गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, हिसार

Read Time:5 Minute, 47 Second

गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय

हिसार दिसंबर 20, 2021
गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, हिसार के ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट सेल के इंडस्ट्री इंट्रेक्शन क्लब द्वारा विश्वविद्यालय के बायो एंड नेनो टेक्नोलॉजी विभाग के सहयोग से ‘बायो एंड नेनो टेक्नोलॉजी विभाग के लिए केरियल परामर्श’ विषय पर एक इंडस्ट्री इंट्रेक्शन कार्यक्रम का आयोजन किया गया।  यूकेए तरसाडिया विश्वविद्यालय के सहायक प्रोफेसर डॉ गोपाल जी कार्यक्रम के मुख्य वक्ता थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्लेसमेंट निदेशक प्रताप मलिक ने की। इस अवसर पर बायो एंड नेनो टेक्नोलॉजी विभाग के सहायक प्रोफेसर एवं ट्रेनिंग प्लेसमैंट कोर्डिनेटर्स डॉ. सपना ग्रेवाल, डॉ. संतोष कौशिक और डॉ. राकेश यादव उपस्थित रहे।
मुख्य वक्ता डॉ. गोपाल जी गोपाल ने अपनी प्रस्तुति में विद्यार्थियों को सफलता पाने के लिए अपने पेशे का सम्मान करने और उसमें रूचि लेकर करने की सलाह दी। उन्होंने प्रत्येक विद्यार्थी को बायो टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में भविष्य के पहलुओं और दृष्टि को समझाने की कोशिश की। उन्होंने अपने द्वारा संचालित विभिन्न ऑनलाइन कार्यक्रमों के बारे में भी जानकारी दी तथा कार्य प्रक्रिया के बारे में बताया। उन्होंने विद्यार्थियों को यह एहसास कराया कि वे महान वैज्ञानिकों से अलग नहीं हैं, बस जरूरत है ज्ञान की। उन्होंने कहा कि वे विज्ञान की मदद से अपना व्यवसाय भी शुरू कर सकते हैं। उन्होंने विद्यार्थियों को विभिन्न इंटर्नशिप और फेलोशिप की जानकारी दी।  उन्होंने विद्यार्थियों को कड़ी मेहनत और स्मार्ट काम करने के लिए खुद को आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि वे विभिन्न प्रवेश परीक्षाओं जैसे टीआईएफआर, आईआईटी-जेएएम, जीएटी-बी आदि के लिए आवेदन करें, जिससे वे पढ़ाई के दौरान छात्रवृत्ति भी प्राप्त कर सकते हैं।  उन्होंने इन परीक्षाओं व इनकी कुशलता से तैयारी के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने छात्रों को उन परीक्षाओं को देने के बाद के अवसरों, छात्रवृत्ति की जानकारी, विभिन्न रैंक लाभ, इन परीक्षाओं के माध्यम से बेहतर कॉलेजों में प्रवेश और विभिन्न फेलोशिप कार्यक्रमों और पात्रता मानदंड के साथ इसके लाभों के बारे में बताया। उन्होंने स्नातक से लेकर पीएचडी तक अधिकांश प्रमुख विषयों को कवर किया।
डॉ. गोपाल जी ने एक संपादक और तकनीकी लेखक के रूप में बायोसाइंस में केरियर की व्याख्या की। उन्होंने विद्यार्थियों को बायोसाइंसिज में एक फ्रीलांसर के रूप में केरियर के बारे में भी बताया। उन्होंने बताया कि विद्यार्थी बायोसाइंसिज में स्टार्टअप कैसे कर सकते हैं। उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि यदि किसी विद्यार्थी का कोई प्रश्न हो तो वे व्यक्तिगत रूप से उनकी ईमेल आईडी और मोबाइल नंबर पर उनसे संपर्क कर सकते हैं। उन्होंने विद्यार्थियों के सभी प्रश्नों का उत्तर दिया।  उन्होंने विद्यार्थियों को सलाह दी कि वे हमेशा अपनी शिक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता पर रखें और किताबों पर पैसा खर्च करने में कभी भी संकोच न करें।
प्लेसमेंट निदेशक प्रताप सिंह मलिक ने कहा कि यह कार्यक्रम विद्यार्थियों को शैक्षणिक तथा औद्योगिकी ज्ञान के बीच की खाई को पाटने में मदद करता है।  उन्होंने डॉ. सपना ग्रेवाल, डॉ. संतोष कौशिक और डॉ. राकेश यादव को इस कार्यक्रम के संचालन की दिशा में उनके निरंतर प्रयासों के लिए धन्यवाद दिया।
डॉ. सपना ग्रेवाल, डॉ. संतोष कौशिक और डॉ. राकेश यादव ने इस कार्यक्रम की विशेषताओं का संक्षिप्त विवरण दिया।  डॉ. सपना ग्रेवाल ने धन्यवाद ज्ञापित किया। कार्यक्रम का संचालन बीएससी बायोटेक्नोलॉजी की छात्रा वेनिका ने किया।

 

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

gate no 4 new Previous post एचएयू में 21 दिसंबर से होगा गुलदाउदी फूलों का शो, कराई जाएंगी कई प्रतियोगिताएं
Photo 1 Hindi D 20.12.2021 scaled Next post गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्यौगिकी विश्वविद्यालय, हिसार गीता श्लोक उच्चारण प्रतियोगिता आयोजित
Social Share Buttons and Icons powered by Ultimatelysocial
%d bloggers like this: