आर्मी पब्लिक स्कूल हिसार में आज पृथ्वी दिवस पर प्राकृतिक संरक्षण हेतु विभिन्न कार्यक्रमों के माध्यम से बच्चों ने दिए समाज में जागृति हेतु अहम संदेश

हिसार,

कैंट स्थित आर्मी पब्लिक स्कूल में पृथ्वी दिवस को 1 दिन तक सीमित ना रखते हुए पुरे सप्ता​ह एक पर्व के रूप में मनाया गया। इस पर्व पर हर दिन ऑनलाइन माध्यम से बच्चों के बीच अलग-अलग प्रतियोगिताओं में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करवाया गया। बच्चों को पोस्टर के माध्यम से पृथ्वी पर व्यापक बेशुमार संसाधनों को जो कि हमें उपहार स्वरूप मिले हैं, बचाने के लिए प्रेरित किया गया।

विद्यालय के चारों सदनों के प्रतिभागियों ने धरती को अपने मां का तुल्य बताते हुए भावविभोर करने वाली स्वरचित कविताएं सुनाई।ट्रैश टू ट्रेजर एक्टिविटी के माध्यम से बच्चों ने पुरानी वस्तुओं को पुन: प्रयोग करने संबंधी जागरूकता को बढ़ाया ।बच्चों के साथ-साथ उनके दादा दादी ने भी इस अभियान में बढ़-चढ़कर भाग लिया और प्रकृति की रक्षा हेतु अपने अमूल्य ज्ञान को बच्चों के साथ साझा किया। सचिता, रिया, व्याकुल ने प्रकृति में बढ़ रहे असंतुलन के प्रति चिंता जाहिर की और युवाओं को यह संदेश दिया कि पर्यावरण को शुद्ध व संतुलित बनाने के लिए अपना योगदान दें ।IMG 0775 1 scaled

बच्चों के बीच बी द अर्थ सेवर क्विज करवाई करवाई गई जिसमें रूपा और यश ने प्रथम स्थान हासिल किया। मुस्कान ने बहुत ही सुंदर वीडियो के माध्यम से रोजमर्रा की जिंदगी में ऐसी आदत तो ऐसी आदतें अपनाने के लिए प्रेरित किया जिनसे हम प्राकृतिक संसाधनों को बचा सके। विद्यालय के बच्चों ने अपने घरों के आसपास पौधारोपण करके उनके देखभाल करने का भी संकल्प लिया । पृथ्वी सप्ता​ह पर्व की समाप्ति पर विद्यालय के प्रधानाचार्य डॉ कविता जाखड़ ने अपने संबोधन में कहा कि पृथ्वी की रक्षा को ध्यान में रखते हुए इस तरह के आयोजन अति आवश्यक है। उन्होंने कहा कि हर दिन पृथ्वी दिवस होना चाहिए हमें वृक्ष लगाने चाहिए उनकी समुचित देखभाल करने तथा उनकी आसपास सफाई रखने का संकल्प लेना चाहिए ।तभी सरकार इन दिनों को मनाना सार्थक होगा और हम धरती को स्वर्ग के समान सुखद और सुंदर बना

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें