[ad_1]

चंडीगढ़4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
img 20201104 wa0207 1 1604508351

सुखना लेक पर छननी के बीच से चांद देखतीं महिलाएं।(फोटो: अश्विनी राणा)

  • सेक्टर46 के धन्वन्तरि आयुर्वेदिक कॉलेज के कोविड वार्ड में महिलायों ने डॉक्टर्स की निगरानी में रखा व्रत

सुहागिनों ने पूरा दिन व्रत रखा और फिर शाम को कथा सुन के इंतजार करने लगीं चांद के दीदार की। इस बीच ये व्रत उन दोनों महिलाओं के लिए बेहद चुनौतीपूर्ण रहा जो कोविड वार्ड में उपचाराधीन थीं। बावजूद इसके सेक्टर 46 के धन्वन्तरि आयुर्वेदिक कॉलेज में बने कोविड वार्ड में डॉक्टर्स की निगरानी में वहां भर्ती महिलाओं ने अपने पति की लंबी आयु के लिए व्रत रखा। वहीं शाम को सबने करवा चौथ की कथा पढ़ी और रात को चांद निकलते ही अर्घ्य देकर अपना व्रत खोला।

img 20201104 wa0205 1 1604508462
img 20201104 wa0206 2 1604508583

दूसरी ओर हर बार की तरह इस बार भी सुखना लेक पर महिलाएं सज संवरकर अपने पति के साथ आयीं। हालांकि कोरोना के चलते पिछले सालों के मुकाबले भीड़ कम थी।जैसे ही चांद निकला, महिलाओं ने छननी के बीच से चांद और पति के चेहरे को देखा। अर्घ्य दिया जिसके बाद उनके पति ने उनका मुहं मीठा करवाकर व्रत खुलवाया। महिलाओं ने एक दूसरे को भी करवा चौथ की मुबारक दी। वहीं जैसे ही चांद निकला, शहर में आतिशबाजी भी हुई।

img 20201104 wa0208 1 1604508694
karwachauth 11 1 1604508674
karwachauth 14 1 1604508651
img 20201104 wa0209 1 1604508622

[ad_2]

Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें