[ad_1]

जालंधरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
orig 83 1604532174

आरोपी सतपाल सत्ता और गिंदा ।

  • दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल से सत्ता हाथ छुड़ाकर भागा तो पीछा कर दोबारा पकड़ा

आदमपुर के कालरा गांव में यूको बैंक में 20 दिन पहले लूट की वारदात कर गार्ड की गोली मारकर हत्या करने वाले लुटेरे सतपाल सिंह सत्ता और उसके साथी गुरविंदर सिंह गिंदा को दिल्ली स्पेशल सेल की पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस मान कर चल रही है कि यह वहीं पिस्टल है, जिससे सत्ता ने बैंक गार्ड सुरिंदर पाल को गोली मारी थी। पंजाब पुलिस दोनों को प्रोडक्शन वारंट पर लाएगी। जब स्पेशल सेल ने सत्ता को पकड़ा तो वह हाथ छुड़वा कर भाग निकला था, मगर टीम ने उसे पीछा करके उसे पकड़ लिया। जब उसकी तलाशी ली गई तो एक पिस्टल बरामद हुआ। पूछताछ में सत्ता और गिंदा ने माना कि पंजाब पुलिस उनकी तलाश कर रही थी। इसलिए वह उनसे बच कर यहां आ गए थे। कुछ दिन शरण लेने के बाद राजस्थान या महाराष्ट्र जाना था।

पुलिस रेड से परेशान होकर हिमाचल से भाग गए थे दोनों
प्राथमिक पूछताछ में सत्ता ने माना कि यूको बैंक लूट के बाद उनके 4 साथी पकड़े गए थे। जालंधर और होशियारपुर पुलिस पीछे लग गई थी। दोनों पुलिस ने दसूहा, तलवाड़ा और हिमाचल प्रदेश में उनके कई ठिकानों पर रेड की थी। हिमाचल में वे पकड़े जाने वाले थे, मगर रेड के कुछ देर पहले ही आ गए थे। इसके बाद वे होशियारपुर से बस से दिल्ली आ गए थे।

पहले पकड़े गए 4 साथी भेजे जा चुके हैं जेल

15 अक्टूबर की दोपहर गांव कालरा स्थित यूको बैंक में 4 नकाबपोश लुटेरे आ धमके थे। लुटेरे देखकर गार्ड सुरिंदर पाल बहादुरी दिखाते हुए उनसे भिड़ गया था। एक लुटेरे ने गार्ड को गोली मार दी थी, जिससे उसकी मौत हो गई थी। लुटेरे बैंक से 5.97 लाख रुपए लूटकर ले गए थे। लुटेरे एक बाइक और स्कूटी पर आए थे। देहात पुलिस ने उनका रूट क्लियर कर एक लुटेरे सुरजीत सिंह जीता को पकड़ किया था।

दूसरे दिन होशियारपुर पुलिस ने होशियारपुर के कोठे प्रेम नगर, हरियाना के रहने वाले सत्ता के चचेरे भाई बलविंदर सिंह सोनू, सुखविंदर सिंह सुक्खा और सुनील दत्त वासी घुगियाल को पकड़ कर उनसे तीन पिस्टल, गार्ड की लूटी गई बंदूक और कैश बरामद किया था। सत्ता का चचेरा भाई किसी भी बैंक लूट में नहीं था, मगर वह उनके वेपन संभाल कर रखता था। जालंधर और होशियारपुर पुलिस के बीच सतपाल सिंह सत्ता वासी हरियाना (होशियारपुर) और गुरविंदर सिंह गिंदा वासी लुधियाणी (होशियारपुर) को पकड़ने के लिए रेस लग गई थी।

अपनी सास समेत 3 लोगों की हत्या कर चुका है सत्ता
सत्ता पहले ही तीन खून कर चुका है। उसने अपनी सास तक की हत्या कर दी थी। सत्ता ने माना कि गार्ड उनसे उलझ रहा था। इसलिए उसे गुस्सा आ गया था। इसके बाद उसने पिस्टल से सीधे उसकी छाती में गोली मार दी थी। सत्ता पर 19 क्रिमिनल केस चल रहे हैं।

आदमपुर में एक, होशियारपुर में लूटे थे तीन बैंक
सत्ता गैंग ने गांव कालरा में 15 अक्टूबर को यूको बैंक लूट कर गार्ड की हत्या की थी। इससे पहले 27 जुलाई को टांडा स्थित इंडियन ओवरसीज बैंक से करीब 10.80 लाख रुपए लूटे थे। 4 सिंतबर को होशियारपुर के गांव भागोवाल स्थित पंजाब एंड सिंध बैंक की शाखा से 5.79 लाख रुपए लूट लिए थे।

[ad_2]

Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें