[ad_1]

पटना5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
whatsapp image 2020 11 04 at 104335 pm 1604511135
  • पटना के अगमकुआं थाने के मामले में हुआ खुलासा
  • 17 अक्टूबर को बैंक जाते वक्त हुई थी वारदात

पटना के कुम्हरार रेल ओवरब्रिज पर 17 अक्टूबर को अपराधियों ने 7.71 लाख रुपया कैश लूटा था। पिस्टल और चाकू के बल पर दिनदहाड़े बाइक सवार अपराधियों ने इस वारदात को अंजाम दिया था। वो भी उस वक्त जब कैश को बैंक में जमा करने के लिए ले जाया जा रहा था। चुनावी माहौल में हुई कैश लूट की इस वारदात ने सनसनी मचा दी थी। लेकिन वारदात के 16वें दिन पटना पुलिस ने इस मामले का खुलासा कर दिया है। तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया है। प्रिंस कुमार, कृष्ण कुमार और बिट्टू कुमार इसमें शामिल थे। इन अपराधियों के पास से लूटे गए कैश में से 23 हजार 700 रुपया, वारदात को अंजाम देने के लिए इस्तेमाल किया गया चाकू, पहना हुआ कपड़ा, बाइक और एक स्कूटी बरामद किया गया है।

दरअसल, लूटा गया कैश आलमगंज के तारा स्टोर का था। मुंशी अमरजीत बैग में कैश लेकर ड्राइवर बिट्टू के साथ फोर व्हीलर से कंकड़बाग स्थित बैंक में जमा करने के लिए निकला था। लेकिन ड्राइवर की पूरी प्लानिंग सेट थी। पटना सिटी के एसडीपीओ के अनुसार उनकी टीम को बिट्टू के ऊपर पहले से शक था। उसके ऊपर पूरी नजर रखी जा रही थी। जांच के क्रम में पता चला कि बिट्टू की दोस्ती जेल से छूटकर आए अपराधी कृष्ण कुमार से थी। इसी के आधार पर सबसे पहले ड्राइवर को पकड़ा गया। उससे सख्ती के साथ पूछताछ की गई। इसके बाद उसने सारा राज उगल दिया, फिर कृष्णा और उसके साथी को गिरफ्तार किया गया।

[ad_2]

Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें