गोंडा के थाना इटियाथोक क्षेत्र में एक 12 वर्षीय नाबालिग दलित लड़की के साथ गैंग रेप करने का मामाला सामाने आया है. परिजनों के मुताबिक गांव के ही कुछ लड़कों ने मिलकर इस घटना को अंजाम दिया है.

वहीं इस मामले में पुलिस की तरफ से की जा रही कार्रवाई को लेकर परिवारवालों ने नाराज़गी ज़ाहिर की है. उनका कहना है कि पुलिस ने बिना मेडिकल कराए ही इसे रेप करार दे दिया है. परिवारवालों का कहना है कि पुलिस जान-बूझकर मामले को दबाने की कोशिश कर रही है.

फिलहाल किसी भी आरोपी को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई है.