[ad_1]

राई15 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक
71 1604529881

ओमेक्स सिटी में बुधवार को एक बार फिर बिजली को लेकर रेजीडेंट्स व बिल्डर आमने-सामने आ गए। बिल्डर ने बिजली निगम का 1 करोड़ 30 लाख रुपए का बकाया बिल जमा नहीं कराया तो निगम ने बिजली का कनेक्शन काट दिया। जिससे गुस्साए रेजिडेंट्स ने ओमेक्स की मेंटेनेंस एजेंसी के कार्यालय पर ताला जड़ दिया। रेजिडेंट्स के दबाव में बिल्डर ने 50 लाख रुपए जमा करा दिए। जिस वजह से निगम ने 5 घंटे बाद दोबारा कनेक्शन जोड़ दिया। एसडीओ प्रदीप सिंह ने कहा कि जितना बकाया पैसा, निगम को उसकी रिकवरी करनी है। यदि जल्द पैसा जमा नहीं कराया तो वे फिर कनेक्शन काट देंगे।

ओमेक्स सिटी एसोसिएशन के प्रधान डॉ. बिजेंद्र शर्मा, महासचिव अनिल शर्मा, सहसचिव विकास दहिया, कैशियर अजीत गुप्ता आदि ने कहा कि बिजली समस्या का स्थाई समाधान नहीं हुआ है। वे ओमेक्स को समय पर मेंटेनेंस व बिजली बिल का पैसा दे रहे हैं। इसके बावजूद 15 सौ लोग परेशान हो रहे हैं। बिल्डर बिजली निगम का बिल जमा नहीं करा रहा है। अभी तक करीब एक करोड़ 30 लाख रुपए का बिल बकाया है। जिस कारण बिजली निगम बार-बार कनेक्शन काट रहा है। जब वे एसडीओ से मिले तो उन्हें बताया गया कि जब तक रिकवरी जमा नहीं होगी, वे कनेक्शन नही जोडेंगे।

बिल्डर ने 50 लाख रुपए का डीडी दिया

बिल्डर पर 1 करोड़ 30 लाख रुपए बिल का बकाया था। इसी कारण कनेक्शन काटा गया था। बिल्डर ने 50 लाख रुपए का डीडी दिया है। जिस कारण अभी कनेक्शन जोड़ दिया गया है। प्रदीप सिंह, एसडीओ बिजली निगम मुरथल।

[ad_2]

Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें