[ad_1]

पटनाकुछ ही क्षण पहले

  • कॉपी लिंक
whatsapp image 2020 11 05 at 41219 pm 1604574200

पूर्णिया के धमदाहा में सभा को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश। तीसरे चरण के चुनाव के लिए गुरुवार को प्रचार खत्म हो गया। 7 नवंबर को तीसरे चरण के लिए वोट डाले जाएंगे।

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को एक चुनावी सभा में कह दिया कि यह उनका आखिरी चुनाव है। यह उनका फैसला है या इमोशनल कार्ड इसके कयास लगाए जा रहे हैं। वे पूर्णिया के धमदाहा में विधानसभा चुनाव के तीसरे और आखिरी फेज की आखिरी रैली को संबोधित कर रहे थे।

नीतीश ने कहा, ‘जान लीजिए…आज चुनाव प्रचार का आखिरी दिन है। परसों चुनाव है…और यह मेरा आखिरी चुनाव है। अंत भला तो सब भला।’ इसके बाद नीतीश से धमदाहा से जदयू प्रत्याशी लेसी सिंह को जिताने की अपील की।

बिहार में तीन चरणों में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं। 7 नवंबर को आखिरी चरण का मतदान होना है। अंतिम चरण में 78 सीटों पर वोटिंग होगी। इस चरण में 1204 उम्मीदवार मैदान में हैं। नतीजे 10 नवंबर को आएंगे। ऐसे में गुरुवार को इस फेज के लिए प्रचार खत्म हो गया।

अजान की आवाज सुनकर रोक दिया भाषण

धमदाहा में नीतीश चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। इसी बीच मस्जिद से अजान होने लगी। नीतीश ने जैसे ही अजान सुनी, तुरंत भाषण रोक दिया और सबको दो मिनट चुप रहने को कहा।

विपक्ष के सामने खींच दी है लंबी लकीर

जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने मुख्यमंत्री के बयान पर कहा है कि सत्ता के लिए कोहराम मचा रहे विपक्ष के सामने उन्होंने एक लंबी लकीर खींच दी है और मील का पत्थर खड़ा किया है। मुख्यमंत्री ने संन्यासी की तरह विरक्त भाव से बिहार की राजनीति की है और उनके इस बयान ने सबको चौंकाया है। मुख्यमंत्री ने 2020 के लिए जनादेश मांगा है और उनके कहने का यही मतलब है कि वे 2025 में चुनाव नहीं लड़ेंगे।

चिराग पासवान ने तंज कसा

नीतीश को आराम करना चाहिए

रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि अब नीतीश कुमार थक चुके हैं। अब उनको आराम करना चाहिए।



[ad_2]

Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें