[ad_1]

शिमला7 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक
app1604489166img 20201104 wa0023 1604521007

मल्टी स्पेशिएलिटी अस्पताल चमियाणा का दौरा करते सीएम जयराम ठाकुर।

  • मल्टी स्पेशिएलिटी अस्पताल चमियाणा में लगेंगी सुपरस्पेशिएलिटी कोर्स कार्डियोलाॅजी, न्यूरोलाॅजी, नेफ्रोलाॅजी गेस्ट्रोएंट्रोलॉजी की कक्षाएं
  • मुख्यमंत्री जयराम बाेले, जून 2021 तक इसे पूरा कराे

मल्टी स्पेशिएलिटी अस्पताल चमियाणा में अगले सत्र से कार्डियोलाॅजी, न्यूरोलाॅजी, नेफ्रोलाॅजी, गेस्ट्रोएंट्रोलॉजी की कक्षाएं लगेंगी। ऐसे में साफ हाे गया है कि वर्ष 2021 से आईजीएमसी अस्पताल से संबंधित इस मल्टी स्पेशिएलिटी अस्पताल में कामकाज पूरी तरह से शुरू हाे जाएगा। बुधवार काे सीएम जयराम ठाकुर ने मल्टी स्पेशिएलिटी अस्पताल चमियाणा का दाैरा किया।

इस दाैरान उन्हाेंने निर्देश दिए कि इसका काम जून 2021 तक पूरा हाेना चाहिए। इसके बाद यहां पर नए अप्रूव किए गए विषयाें की क्लासें शुरू की जाएं। उन्होेंने अधिकारियों को बेहतर जल, सड़क, बिजली और अन्य बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए विभागों के बीच उचित समन्वय सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

सीएम ने जल शक्ति विभाग और शिमला जल प्रबंधन निगम के अधिकारियों को इस परियोजना के लिए हर राेज पानी उपलब्ध करवाने के लिए प्रभावी योजना तैयार करनेे के निर्देश दिए।

डाॅक्टराें के लिए आवास की सुविधा भी मिलेगीः

सीएम ने कहा कि इस परिसर में कनिष्ठ व वरिष्ठ रेजिडेंट चिकित्सकों के लिए आवास की सुविधा और पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए छात्रावास की सुविधा उपलब्ध होगी। वर्तमान परिसर में चिकित्सकों और अन्य पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए कार्यालय भी होंगे। द्वितीय चरण में इस सुपर स्पेशिएलिटी अस्पताल में तैनात अन्य कर्मचारियों को भी आवास की सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी।

जयराम के साथ स्वास्थ्य मंत्री सैजल भी रहे माैजूद:

इस अवसर पर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डाॅ. राजीव सैजल, मुख्य सचिव अनिल खाची, सचिव स्वास्थ्य अमिताभ अवस्थी, मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन डाॅ. निपुण जिंदल, प्रबंध निदेशक एचपीएसइबीएल आरके शर्मा, प्रधानाचार्य इंदिरा गांधी चिकित्सा महाविद्यालय डाॅ. रजनीश पठानिया, प्रमुख अभियंता, लोक निर्माण विभाग, भवन कुमार शर्मा और अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

[ad_2]

Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें