[ad_1]

नई दिल्ली: कांग्रेस ने बुधवार को मुंगेर घटना की तुलना जलियांवाला बाग हत्याकांड से की और बिहार सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने पूछा कि क्या देश में दुर्गापूजा त्योहार में शामिल होना अपराध है? एक प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए, कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने घटना की तुलना 13 अप्रैल 1919 को हुए जलियांवाला बाग हत्याकांड से की, जब कार्यकारी ब्रिगेडियर जनरल रेजिनल्ड डायर ने ब्रिटिश भारतीय सेना को अमृतसर में निहत्थे नागरिकों पर गोली चलाने का आदेश दिया था.

कांग्रेस नेता ने कहा कि पुलिस मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अधीन बेखौफ हो चुकी है और लोगों को जानवरों की तरह मार रही है. उन्होंने कहा, “भाजपा-जदयू सरकार के अंतर्गत पुलिस बिहार में दुर्गा मां के भक्तों के साथ ऐसा व्यवहार क्यों कर रही है? उन्हें बिना किसी कारण के बुरी तरह पीटा गया.” सिंघवी ने कहा कि वह वह भक्तों पर फायरिंग की वजह जानना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि यह शर्मनाक और असभ्य है.

ये है मामला

पुलिस ने मंगलवार को कहा था, “मुंगेर में सोमवार को रात 11.30 बजे दीन दयाल उपाध्याय चौक पर मां दुर्गा के मूर्ति विसर्जन के दौरान पुलिस के लाठी चार्ज और अज्ञात व्यक्तियों द्वारा फायरिंग की घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई और 20 अन्य घायल हो गए, जिसमें कुछ पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं.”

यह भी पढ़ें-

बिहार चुनाव: पीएम मोदी ने तेजस्वी यादव को बताया ‘जंगल राज का युवराज’, राम मंदिर का भी किया जिक्र | 10 बड़ी बातें

बिहार चुनाव: दूसरे चरण में RJD ने सबसे ज्यादा दागियों को मैदान में उतारा, बीजेपी-जेडीयू भी नहीं हैं पीछे

[ad_2]

Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें