[ad_1]

यूएस सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) की बैठक में शुक्रवार को जॉनसन एंड जॉनसन कंपनी के एक अधिकारी ने कहा कि कंपनी जल्द ही 12 से 18 वर्ष की आयु के युवाओं में अपनी प्रयोगात्मक COVID-19 वैक्सीन का परीक्षण शुरू करने की योजना बना रही है.

बच्चों में कोविड-19 वैक्सीन की टेस्टिंग की योजना

जॉनसन एंड जॉनसन के डॉ जेरी सेड्रोफ ने इम्यूनाइजेशन प्रैक्टिस पर सीडीसी की एडवाइजरी कमेटी की वर्चुअल मीटिंग में बताया कि, “ हम सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखते हुए जितना जल्दी हो सके उतना जल्दी बच्चों में कोविड-19 वैक्सीन की टेस्टिंग किए जाने की प्लानिंग कर रहे हैं.” वहीं जॉनसन एंड जॉनसन की जेनसेन यूनिट में वैक्सीन अनुसंधान वैज्ञानिक, सदॉफ ने बताया कि,” सुरक्षा व अन्य कारकों के आधार पर कंपनी की योजना छोटे बच्चों में टेस्टिंग करने की भी है.”

फाइजर इंक पहले से ही कर रही है कोविड-19 वैक्सीन की टेस्टिंग

बता दें कि जॉनसन एंड जॉनसन (J&J) ने सितंबर महीने के अंत में 60,000 स्वयंसेवक फेज-III स्टडी में वयस्कों में टीके का परीक्षण शुरू किया था. इस महीने की शुरुआत में एक प्रतिभागी की गंभीर स्थिति को देखते हुए परीक्षण को रोकना भी पड़ा था. यह स्टडी पिछले सप्ताह ही शुरू हुई है. गौरतलब है कि दवा निर्माता कंपनी फाइजर इंक ने पहले ही कोविड-19 वैक्सीन की टेस्टिंग करना शुरू कर दिया है, जोकि 12 साल से कम उम्र के बच्चों में जर्मनी के बॉयोटेक के साथ विकसित हो रही है.

ये भी पढ़ें

Coronavirus: पाकिस्तान में जज और स्टाफ के संक्रमित होने के बाद इस्लामाबाद की 11 कोर्ट सील

झारखंड में लंबे अर्से बाद कोरोना से एक भी मौत नहीं, 95 हजार मरीज अब तक हुए ठीक



[ad_2]

Source link

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें