करियर

गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय ने एसएसबी में करियर की सम्भावनाओं को जाना

नवम्बर 07, 2022

गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, हिसार के ट्रेनिंग एंड प्लेसमेंट सेल के एसएसबी क्लब द्वारा कपूरथला से एनडीए-148 कोर्स में एसएसबी-अनुशंसित उम्मीदवारों अंकुर यादव, एआईआर 49 तथा परुन, एआईआर 201 के अनुभवों को साझा करने के लिए विद्यार्थियों के लिए वेबिनार का आयोजन किया गया। इस वेबिनार का उद्देश्य विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों की एसएसबी तैयारी में सफलता हासिल करना था। ऑनलाइन हुए इस वेबिनार में विश्वविद्यालय के लगभग 45 विद्यार्थियों ने भाग लिया।

प्लेसमैंट निदेशक प्रताप सिंह मलिक ने अपने स्वागत सम्बोधन में वक्ताओं परुण व अंकुर का विद्यार्थियों से परिचय करवाया। उन्होंने विद्यार्थियों को एसएसबी क्लब के उद्देश्य के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि ऐसे बहुत से विद्यार्थी हैं जो सशस्त्र बलों में अपना करियर बनाना चाहते हैं, लेकिन उनके पास मार्गदर्शन की कमी है। इसलिए विद्यार्थियों को एसएसबी के बारे में जानकारी देने के लिए ट्रेनिंग एंड प्लेसमैंट सैल के एसएसबी क्लब द्वारा इस प्रकार के कार्यक्रम नियमित रूप से करवाए जा रहे हैं।

वेबिनार में परुण व अंकुर यादव ने अपने अनुभव साझा किए। उन्होंने शुरू से ही अपनी यात्रा साझा की। उन्होंने विद्यार्थियों को बताया कि उन्होंने लिखित परीक्षा व एसएसबी साक्षात्कार के लिए कैसे तैयारी की। उन्होंने अपने पांच दिनों के अनुभव के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने विद्यार्थियों के साथ उत्साहपूर्वक बातचीत की। एसएसबी क्लब के समन्वयक ललित कुमार ने पांच दिवसीय एसएसबी प्रक्रिया के विभिन्न परीक्षणों के संबंध में विद्यार्थियों से संदेह व प्रश्न पूछे। उन्होंने प्रतिभागियों को बताया कि ओआईआर परीक्षण कैसे करें, पीपीडीटी की तस्वीर का निरीक्षण करें तथा इसके चारों ओर एक व्यावहारिक कहानी को प्रभावी ढंग से कैसे लिखें तथा इसे कैसे सुनाया जाए। उन्होंने सुझाव दिए कि वे समूह चर्चा में कैसे अच्छा प्रदर्शन कर सकते हैं और चर्चा के दौरान होने वाली ‘फिश मार्केट’ जैसी स्थितियों में भी सक्रिय रूप से भाग लेना चाहिए। उन्होंने प्रतिभागियों को यह भी बताया कि वे मनोविज्ञान परीक्षण, विशेष रूप से टीएटी का प्रयास कैसे कर सकते हैं और साक्षात्कार अधिकारी के प्रश्नों से कैसे निपटें जब उन्हें प्रश्नों के विषयों की जानकारी भी नहीं है। उन्होंने प्रतिभागियों को जीटीओ संरचनाओं का निरीक्षण करने, विचार देने और समूहों में सक्रिय रहने के सुझाव दिए। सत्र के दौरान सभी प्रतिभागी वक्ताओं के साथ बहुत संवादात्मक थे। इस अवसर पर ललित ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया। वेबिनार का संचालन राहुल ने किया। संयुक्त समन्वयक रश्मि जोशी तथा एसएसबी क्लब महक, तरुण, दीपक, राहुल, पूजा, कपिल, रिया, श्रुति, रितिक, संजना व और अनु की टीम के सदस्यों ने कार्यक्रम का प्रभावी प्रबंधन किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button