गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, हिसार के कुलपति प्रो. बलदेव राज काम्बोज ने कहा है कि धरती को सुंदर और हरा-भरा बनाने में उद्यानकर्मियों का श्रेष्ठ योगदान है।

0
32
Read Time:2 Minute, 53 Second

गुरु जम्भेश्वर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, हिसार के कुलपति प्रो. बलदेव राज काम्बोज ने कहा है कि धरती को सुंदर और हरा-भरा बनाने में उद्यानकर्मियों का श्रेष्ठ योगदान है।

उद्यानकर्मी पृथ्वी पर सकारात्मक ऊर्जा का प्रतीक हैं।  उद्यानों से धरा के सौन्दर्य के साथ-साथ मानव को भी खुशी मिलती है।  कुलपति प्रो. बलदेव राज काम्बोज ने शुक्रवार की सुबह विश्वविद्यालय की नर्सरी में पर्यावरण दिवस के उपलक्ष्य पर विश्वविद्यालय के उद्यानकर्मियों का सम्मान किया व इस अवसर पर पौधारोपण किया।  यह कार्यक्रम समरसता मंच के सहयोग से आयोजित किया गया।  उन्होंने विश्वविद्यालय के लगभग 100 उद्यानकर्मियों को गमछा व प्रसाद देकर सम्मानित किया।  इस अवसर पर विश्वविद्यालय के कुलसचिव प्रो. अवनीश वर्मा भी उपस्थित रहे।
प्रो. बलदेव राज काम्बोज ने कहा कि गुजविप्रौवि हिसार का परिसर देश के सबसे सुंदर विश्वविद्यालय परिसरों में से एक है।  इसका पहला श्रेय विश्वविद्यालय के उद्यानकर्मियों को जाता है।  उन्होंने कहा कि पृथ्वी के लगातार बढ़ते तापमान को पेड़ व उद्यान लगाकर ही नियंत्रित किया जा सकता है। किसी भी कार्य की सफलता के लिए उस कार्य में लगे हर व्यक्ति का योगदान महत्वपूर्ण है।  प्राथमिक स्तर पर कार्य करने वाला व्यक्ति उच्च स्तर पर कार्य करने वाले व्यक्ति से अधिक महत्वपूर्ण होता है।  उन्होंने उद्यानकर्मियों से कहा कि विश्वविद्यालय उनकी सेवाओं पर गर्व करता है।
प्रो. अवनीश वर्मा ने उद्यानकर्मियों को पर्यावरण दिवस की बधाई दी तथा कहा कि विश्वविद्यालय के सौन्दर्य के आधार उद्यानकर्मी ही हैं।
कार्यकारी अभियंता सुनील ग्रोवर ने उद्यानकर्मियों का परिचय करवाया तथा बागवानी विभाग की उपलब्धियों की जानकारी दी। इस अवसर पर निदेशक प्रताप मलिक, उपमंडल अभियंता धमेन्द्र, सलाहकार लेंडस्केप पाला राम व बृजलाल सहित उद्यानकर्मी उपस्थित रहे।
Photo 1 Horticulture 10.06.2022

 

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here